मध्य प्रदेश जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे निकालें?

MP Jameen Ka Purana Record:- जमीन का 50 साल या 100 साल के रिकॉर्ड को एक कागज में रखना काफी चुनौतीपूर्ण काम है। क्यूंकि कागज़ की गुणवत्ता खराब होने, कागज़ पर लिखावट के मिटने , काग़ज़ के गुम होने जैसे अनेकों संभावनाएं बनी रहती है। ऐसे स्थिति में खेत, प्लॉट, प्रॉपर्टी, जमीन का पुराना रिकॉर्ड रखना जरूरी होता है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

आज के इस डिजिटल ज़माने में पुराना से पुराना जमीन की जानकारी या रिकॉर्ड को सदियों तक रख सकते हैं, साथ ही जरूरत पड़ने पर जमीन के पुराने रिकॉर्ड को ऑनलाइन निकाल सकते हैं। मध्य प्रदेश के जिन भी नागरिकों को जमीन का पुराना रिकॉर्ड निकालना है वो मध्य प्रदेश राजस्व विभाग के ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन निकाल सकते हैं।

अतः मध्य प्रदेश जमीन का पुराना रिकॉर्ड ऑनलाइन कैसे निकालें या देखें, इसकी जानकारी को स्टेप by स्टेप आज के इस लेख के माध्यम से डिटेल में साझा करने वाले हैं। जमीन का ऑनलाइन पुराना पुश्तैनी रिकॉर्ड निकालने के लिए अपने मोबाइल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे निकालें उसकी जानकारी

मध्य प्रदेश राज्य सरकार द्वारा जारी किए मध्य प्रदेश भू अभिलेख पोर्टल (MP Land Record Portal) माध्यम से पुराने जमीन का खाता संख्या, खसरा नंबर, खतौनी, जमाबंदी नंबर, भू स्वामी, खेत का रकबा (क्षेत्रफल), गाटा संख्या,जमीन का भूलेख विवरण, B1 खसरा खतौनी आदि को देख सकते हैं।

एमपी भूमि भूलेख पोर्टल के पर खाता संख्या या खसरा नंबर की सहायता से जमीन का रिकॉर्ड निकालने का सुविधा उपलब्ध है। यदि आपको अपने भूमि का खाता या खसरा नंबर पता है तो आसानी से MP Jameen Ka Purana Land Record निकाल सकते हैं।

नीचे दिए गए प्रक्रिया में क्रमशः नक्शों में अपने जिला, क्षेत्र, तहसील, गांव, अभिलेख विवरण के द्वारा एमपी खेत या जमीन का पुराना रिकॉर्ड निकालने के तरीके को बताया है। अतः सभी प्रक्रियाओं को ध्यानपूर्वक पढ़ें एवं फॉलो करें।

जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें / निकालें मध्य प्रदेश (MP)

स्टेप 1:– MP Land Record पोर्टल पर जाएं।

ऑनलाइन जमीन का पुराना रिकॉर्ड (mp) निकालने के लिए मध्य प्रदेश के निवासियों को सबसे पहले राज्य सरकार द्वारा जारी आधिकारिक पोर्टल पर जाना होगा। आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के लिए क्लिक करें

स्टेप 2:– नक्शे में अपने जिला का नाम चुनें।

MP Purana Jameen Record Check करने के लिए नागरिकों को एमपी भूलेख पोर्टल पर उपलब्ध नक्शे में अपने जिले के नाम पर क्लिक करना होगा।

स्टेप 3:– अभिलेखगार दस्तावेज के विकल्प को चुनें।

एमपी भूलेख पोर्टल खुलने के बाद नए पेज पर लिखे अभिलेखगार दस्तावेज़ (स्कैन) विकल्प पर क्लिक करना होगा। नीचे दिए गए चित्र में देखें।

mp land record online check

स्टेप 4:– अभिलेखागार प्रतिलिपि डिटेल को भरें ?

अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जायेगा जिसमे कि आपको जमीन का पुराना रिकॉर्ड देखने के लिए, जिला, गांव, अभिलेख, खसरा, पृष्ठ क्रमांक सेलेक्ट कर कैप्चा कोड भरना होगा। उसके बाद नीचे लिखे “विवरण देखें” ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

madhya pradesh jamin ka purana record kaise check kare

स्टेप 5:– एमपी जमीन का पुराना रिकॉर्ड ऑनलाइन देखें।

madhya pradesh jameen ka record kaise nikale online

अब आपके सामने खसरा नंबर के अनुसार आपके पुराने जमीन का रिकॉर्ड / जानकारी खुलकर आ जायेगी। जिसमे कि जमीन से संबंधित सभी जानकारी दिया होगा।

इस तरह कोई भी नागरिक घर बैठे मोबाइल फोन से MP Purana Jameen Record Check कर जमीन संबंधित डिटेल निकाल सकते हैं।

एमपी राज्य के जिलों की सूची जिसका जमीन का पुराना रिकॉर्ड निकालें ऑनलाइन

आगर मालवा (AgarMalwa)खरगौन (Khargone)
अलीराजपुर (Alirajpur)मंडला (Mandla)
अनूपपुर (Anuppur)मंदसौर (Mandsaur)
अशोकनगर (Ashok Nagar)मुरैना (Morena)
बालाघाट (Balaghat)नरसिंहपुर (Narsinghpur)
बड़वानी (Barwani)नीमच (Neemuch)
बैतूल (Betul)निवाड़ी (Niwari)
भिण्‍ड (Bhind)पन्ना (Panna)
भोपाल (Bhopal)रायसेन (Raisen)
बुरहानपुर (Burhanpur)राजगढ़ (Rajgarh)
छतरपुर (Chhatarpur)रतलाम (Ratlam)
छिंदवाड़ा (Chhindwara)रीवा (Rewa)
दमोह (Damoh)सागर (Sagar)
दतिया (Datia)सतना (Satna)
देवास (Dewas)सीहोर (Sehore)
धार (Dhar)सिवनी (Seoni)
डिंडौरी (Dindori)शहडोल (Shahdol)
गुना (Guna)शाजापुर (Shajapur)
ग्वालियर (Gwalior)श्योपुर (Sheopur)
हरदा (Harda)शिवपुरी (Shivpuri)
होशंगाबाद (Hoshangabad)सीधी (Sidhi)
इंदौर (Indore)सिंगरौली (Singrouli)
जबलपुर (Jabalpur )टीकमगढ़ (Tikamgarh)
झाबुआ (Jhabua)उज्जैन (Ujjain)
कटनी (Katni)उमरिया (Umaria)
खण्‍डवा (Khandwa )विदिशा (Vidisha)

जमीन का पुराना रिकॉर्ड क्यों निकालें – आवश्यक जानकारी

✓ किसी जमीन का पुराना रिकॉर्ड निकालकर उसके डाउनलोड प्रतिलिपि को अपने पास अवश्य रखें जिसके की जमीन पर कोई अन्य व्यक्ति अपना अधिकार न दिखाए।

✓ जमीन संबंधित विवादों का निवारण जमीन के पुराने रिकॉर्ड के माध्यम से कर सकेंगे।

✓ जमीन की स्थिति का अवलोकन कर सकेंगे कि जमीन उपजाऊ है, आबादी है या बंजर।

✓ अवैध खनन या माफियाओं द्वारा अवैध कब्जे जैसे समस्याओं का समाधान जमीन के पुराने रिकॉर्ड के माध्यम से कर सकेंगे।

एमपी जमीन का पुराना रिकॉर्ड हेतु टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर

मध्य प्रदेश के जिले में नागरिकों को ऑनलाइन माध्यम द्वारा जमीन का पुराना रिकॉर्ड देखने निकालने में किसी प्रकार की दिक्कत आ रही है तो वह राज्य सरकार द्वारा जारी किया गया टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके समस्या का समाधान कर सकते हैं।

हेल्पलाइन नंबर0751-2441-200
टोल फ्री सहायता नंबर1800-233-6765
फैक्स नंबर0751-2441-202

सारांश –

मध्य प्रदेश जमीन का पुराना रिकॉर्ड ऑनलाइन देखने के लिए एमपी भूलेख पोर्टल पर जाना होगा। इसके बाद नक्शे से अपने जिला का नाम चुनना होगा। फिर अभिलेखगार दस्तावेज के ऑप्शन को चुनकर नए पेज पर जिला, तहसील, गांव, खसरा, अभिलेख को चुन कर जमीन का पुराना रिकॉर्ड एमपी देख सकते हैं।

FAQ –

मध्य प्रदेश खेत जमीन का पुराना रिकॉर्ड देखने के लिए आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

आधिकारिक वेबसाइट – http://www.landrecords.mp.gov.in/

ऑनलाइन जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें?

सर्व प्रथम आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं >> दिए नक्शे में से अपने जिले के नाम को चुनें >> अभिलेखागार डिटेल को चुनें >> जिला, तहसील, गांव, खसरा नंबर चुनें >> जमीन का पुराना रिकॉर्ड ऑनलाइन निकालें

जमीन का 100 साल पुराना रिकॉर्ड कैसे निकाले MP?

100 साल पुराना जमीन रिकॉर्ड हेतु आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं >> अब पोर्टल पर नक्शे में से अपने जिले के नाम को चुनें >> इसके बाद अभिलेखागार डिटेल को चुनें >> फिर क्रमश जिला, तहसील, गांव, खसरा नंबर चुनें >> 100 साल पुराना जमीन का रिकॉर्ड देखें।

क्या खसरा नंबर से एमपी जमीन का रिकॉर्ड निकाल सकते हैं?

जी हां, अगर आपको अपने जमीन का खसरा नंबर पता है तो आप आसानी से मध्य प्रदेश जमीन के पुराने रिकॉर्ड की जानकारी को हासिल कर सकते हैं।

बिना खसरा नंबर से जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे निकालें?

यदि आपको अपने जमीन का खसरा नंबर नहीं पता है तो एमपी भूलेख पोर्टल पर भूमि मालिक के नाम एवं अन्य डिटेल को देकर जमीन का पुराना रिकॉर्ड देख सकते हैं।

मध्य प्रदेश जमीन का पुराना रिकॉर्ड ऑनलाइन कैसे निकाले, इसकी संपूर्ण जानकारी ऊपर के पोस्ट में स्टेप बाय स्टेप बताया गया है। मध्य प्रदेश भूलेख पोर्टल पर जमीन का पुराना लैंड रिकॉर्ड चेक करने के लिए बहुत सारे माध्यमों को उपलब्ध कराया गया है। जैसे कि भू मालिक के नाम, खसरा खतौनी के अनुसार पुराने जमीन की जानकारी को निकाल सकते हैं।

एमपी पुराने लैंड रिकॉर्ड को देखने में अगर किसी प्रकार की दिक्कत हो रही है तो टोल फ्री नंबर हेल्पलाइन नंबर की सहायता ले सकते हैं। मैं आशा करता हूं कि ऊपर दिए गए सभी जानकारी आपको समझ में आ गई है।

मध्य प्रदेश जमीन का पुराना रिकॉर्ड ऑनलाइन कैसे निकाले, इसकी संपूर्ण जानकारी ऊपर के पोस्ट में स्टेप बाय स्टेप बताया गया है। मध्य प्रदेश भूलेख पोर्टल पर जमीन का पुराना लैंड रिकॉर्ड चेक करने के लिए बहुत सारे माध्यमों को उपलब्ध कराया गया है। जैसे कि भू मालिक के नाम, खसरा खतौनी के अनुसार पुराने जमीन की जानकारी को निकाल सकते हैं।

एमपी पुराने लैंड रिकॉर्ड को देखने में अगर किसी प्रकार की दिक्कत हो रही है तो टोल फ्री नंबर हेल्पलाइन नंबर की सहायता ले सकते हैं। मैं आशा करता हूं कि ऊपर दिए गए सभी जानकारी आपको समझ में आ गई है।

यह भी पढ़ें :-

 मध्य प्रदेश जाति प्रमाण पत्र डाउनलोड कैसे करें

लाडली बहना योजना का पैसा कैसे चेक करें

मध्य प्रदेश वाहन रजिस्ट्रेशन डिटेल्स कैसे देखें

मध्य प्रदेश आयुष्मान कार्ड ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

लाड़ली लक्ष्मी योजना प्रमाण पत्र डाउनलोड 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment